Sunday, 14 October 2012

मंदिरों की सुरक्षा व व्यवस्था सुनिश्चित करे सरकार: विहिप
कालिका पीठ में बैरिकेटिंग हटाने तथा नांगल देवत में जीएमआर द्वारा मंदिरों की घेराबन्दी कर बिजली का कनेक्शन काटने से श्रद्धालुओं में तीव्र रोष, विहिप महामंत्री द्वारा महामेले का उद्घाटन आज(14/10/12)
नई दिल्ली। अक्टूबर 13, 2012। हिन्दुओं के प्रमुख त्योहारों व उनके उपलक्ष्य में लगने वाले मेलों की श्रंखला का श्री गणेश आज से होने जा रहा है। दिल्ली के भक्तों ने तो अपनी जिम्मेदारी समझते हुए इनके लिए कमर कस ली है किन्तु दिल्ली सरकार व पुलिस प्रशासन इन मसलों में कुछ उदासीन दिख रहा है। विश्व हिन्दू परिषद(विहिप) दिल्ली के महा मंत्री श्री सत्येन्द्र मोहन ने कहा है कि एक ओर जहां श्रद्धालु कालिका पीठ के प्रवेश मार्ग में लगे बैरिकेटिंग को हटाए जाने से नाराज हैं वहीं इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा के पास सदियों पुराने बने नांगल देवत मंदिरों की जी एम आर कम्पनी द्वारा घेराबन्दी किए जाने तथा मन्दिरों की बिजली काटने से लोगों में भारी रोष है। उन्होंने मांग की है कि दिल्ली सरकार, दिल्ली पुलिस तथा जी एम आर कम्पनी व दिल्ली अंतर्राष्ट्रीय हबाई अड्डा लिमिटेड इस सम्बन्ध में अबिलम्ब कार्यबाही करें जिससे श्रद्धालुओं को सुरक्षा व व्यवस्था सम्बन्धी समस्या से न जूझना पडे। नांगल देवत से प्रारम्भ होने वाले उत्सवों व त्यौहारों की श्रंखला का उद्घाटन विहिप के अंतर्राष्ट्रीय संगठन महा मंत्री श्री दिनेश चंद्र आज(14/10/12) को प्रात: 11 बजे नांगल देवत में करेंगे।
विहिप दिल्ली की एक अहम बैठक के बाद संगठन के मीडिया प्रमुख श्री विनोद बंसल ने बताया कि दिल्ली में आज से ही हिन्दू त्यौहारों, राम लीलाओं, मेलों व अनेक प्रकार के उत्सवों की एक लम्बी श्रंखला प्रारम्भ होने जा रही है। इनमें सम्मिलित व सहभागी होने वाले श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की कठिनाई का सामना न करना पडे इस हेतु बुलाई गई आज की बैठक में कनागती अमावस्या, नव रात्रि, दुर्गा पूजा, द्शहरा, दीपावली इत्यादि के अवसर पर मन्दिरों व अन्य धार्मिक स्थलों पर की जाने वाली व्यवस्था व सुरक्षा से जुडे अनेक बिन्दुओं पर बिचार किया गया। बैठक में जहां एक ओर इस बात पर गहरी चिन्ता व्यक्त की गई कि सिद्ध पीठ मां कालिका माई के दरबार में जाने बाले मार्ग से बैरिकेटिंग को हटाए जाने से वहां भक्तों और मन्दिर प्रशासन को व्यवस्था बनाए रखने मे भारी समस्या से जूझना पडेगा वहीं दक्षिणी दिल्ली के नांग देवत में 14 व 15 अक्टूबर को लगभग पचास हजार श्रद्धालू बाबा समेराम की समाधि व अन्य मन्दिरों के दर्शन करने देश के विभिन्न भागों से पहुंचेंगे किन्तु आज तक वहां व्यवस्था के नाम पर पूरी तरह अव्यवस्था का आलम है। जी एम आर कम्पनी ने मन्दिरों को बन्धक बना रखा है तथा वहां न बिजली का कनेक्शन है ना ही पीने के पानी की व्यवस्था। बैठक में अनेक राम लीलाओं को हो रही अनेक प्रकार की समस्याओं पर भी चिंता व्यक्त की गई। विहिप ने एक प्रस्ताव पारित कर दिल्ली सरकार, दिल्ली पुलिस, जी एम आर्, डायल व अन्य सम्बन्धित विभागों से कहा है कि इस सम्बन्ध में वे शीघ्रताशीघ्र उचित कार्यवाही कर हिन्दू समाज की भावनाओं को आहत होने तथा राजधानी में किसी प्रकार की अराजक स्थिति निर्माण होने से रोकें।
भवदीय

No comments:

Post a comment